वित्त मंत्रालय ने निजी क्षेत्र के बैंकों से वित्तीय समावेशन योजनाओं के तहत अधिक ऋण देने का आग्रह किया

Posted on: 2024-07-10


वित्त मंत्रालय ने निजी क्षेत्र के बैंकों से पीएम स्वनिधि, पीएम विश्वकर्मा और जन समर्थ पोर्टल जैसी वित्तीय समावेशन योजनाओं के तहत अधिक ऋण देने का आग्रह किया है, जिसका उद्देश्य कुशल कारीगरों और रेहड़ी-पटरी वालों जैसे गरीबों को अधिक रोजगार उपलब्ध कराना है। वित्तीय सेवा विभाग के सचिव विवेक जोशी ने कल निजी क्षेत्र के बैंकों के शीर्ष अधिकारियों के साथ गरीबों के लिए इन रोजगारोन्मुखी योजनाओं की प्रगति पर समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की।  

श्री जोशी ने जन समर्थ पोर्टल की विशेषताओं पर प्रकाश डाला जो सरकार की ऋण-लिंक्ड योजनाओं की जानकारी एक ही मंच पर प्रस्तुत करता है। यह मंच ग्राहकों के अनुभव को बेहतर बनाता है और बैंकों को अधिक ग्राहकों को आकर्षित करने में सहायता करता है। श्री जोशी ने वित्तीय समावेशन कार्यक्रमों के महत्व पर जोर दिया और बैंकों से वित्तीय साक्षरता शिविर आयोजित करने का आग्रह किया ताकि वित्तीय समावेशन योजनाओं के बारे में समाज के विभिन्न वर्गों में जागरूकता फैलाई जा सके।